7 Jan 2018

सफल वही होता है , जो दुसरो से कुछ अलग करता है ! इसे पढने के बाद आप भी शुरू कर देंगे बिज़नस !

Google Images 

नमस्कार  सभी पाठको को मेरा नमस्कार !
 "सफल वही  होता है जो दूसरे से कुछ  अलग करता है !" यहा पर हम जो भी बिज़नस करना चाहते है हम देखते है की काफी लोग वो बिज़नस कर रहे है ओर काफी समय से कर रहे है और वो काफी सफल रहते है ! ये देख के हम नर्वस हो जाते है उसके साथ हम उनके साथ मुकाबला कैसे करे ! यहाँ पर सफल वही होता है जो दूसरो से कुछ अलग करता है ! तो यहा पर एक स्टोरी के साथ में मैं बताऊंगा की किस तरीके से कोई बिज़नस करे की उसमे से थोडा सा दूसरो से कुछ अलग करने की कोशिश करेंगे की तभी हम उस बिज़नस में सफल होंगे तो चलिए वो कहानी क्या है हम बताते है !
   एक बार एक आदमी ने सोचा की हम कोई बिज़नस करते है और वो शक्कर बेचने का दुकान करी ! और वो दुकान वह पे खोली जहां पर शक्कर बेचने की दुकान पहले से ही थी ! अब उसने दुकान खोलने के बाद उसने दूसरो से 1 रुपये कम कीमत पर शक्कर बेचना शुरू किया , तो आस पास के जितने भी दुकानदार थे सोचने लगे की हम जिस मूल्य पर शक्कर खरीदते है , ये उसी मूल्य पर शक्कर बेच रहा है ! तो ये दुकान कैसे चलाएगा ये महीने दो महीने में दुकान बंद कर देगा ! और चलेगा जायेगा पर ! वो एक महीना हो गया दो महीना हो गया ! और वो शक्कर बेचता रहा ! तो सारे दुकानदार सोचने लगे की हम भाव पर खरीदते है, ये उसी भाव पर बेचता है तो इसे लाभ कैसे हो रहा है ! लोगो को समझ में नही आ रहा है ! आखिर कर सभी दुकानदार उसके पास जाते है और पूछते है , की हम जिस भाव पर खरीदते है तुम उसी भाव पर बेचते हो तो तुम्हे लाभ कैसे मिलता है ! तो उसने कहा मैं जिस भाव पर खरीदता हु उसी भाव पर बेचता हु ! पर मुझे हर बोरी के पीछे 5 रुपया लाभ मिलता है ! पर पहले जहां पर मेरी 5 बोरी बिकती थी , आज के समय में 500 बोरी बिकती है !
       तो इस कहानी में उसने दूसरो से कुछ थोडा सा अलग किया और सफल हुआ और कीमत कम होने के कारण जो दूसरो के ग्राहक थे ! वि भी उसके पास आ चुके थे ! उसने दुकान देर से खोली थी पर कुछ अलग करने से वो जल्दी ही सफल हो गया ! तो उसी तरीके से हमे भी करना चाहिए ! जैसा की हम Youtube चलाते है ! पर बहुत से और लोग भी Youtube चलाते है ! तो हमें भी यहाँ पर थोडा अलग करने की जरुरत है ! हम भी सफल होंगे ! और हमे कभी हार नही मानना चाहिए !

तो दोस्तों आपको हमारा ये कहानी कैसा लगा हमे कमेंट करके जरुर बताये  और यही आपका कोई सुझाव है तो हमे जरुर बताये ! 

No comments:

Post a Comment

1. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।
2. हम आपसे लेख के बारे में वास्तविक राय की अपेक्षा करते हैं।
3. यदि आप विषय के अतिरिक्त कोई अन्य जानकारी चाहते हैं तो अपने प्रश्न ईमेल द्वारा पूछे - rohitksports@gmail.com

Download This App Now